मेरा प्रिय समाचारपत्र हिंदी निबंध My Favourite Newspaper Essay in Hindi

My Favourite Newspaper Essay in Hindi: शिक्षा का प्रसार होने के साथ-साथ देश में अखबारों का प्रकाशन भी बढ़ता जा रहा है। हमारे शहर में बहुत से अखबार मिलते हैं। इन सबमे जिसे में सबसे अधिक पसंद करता हूँ वह है प्रसिदय हिंदी दैनिक ‘नवभारत टाइम्स’।

मेरा प्रिय समाचारपत्र पर हिंदी में निबंध My Favourite Newspaper Essay in Hindi

मेरा प्रिय समाचारपत्र पर हिंदी में निबंध My Favourite Newspaper Essay in Hindi

समाचारों की विशेषता

‘नवभारत टाइम्स’ एक लोकप्रिय, निष्पक्ष और प्रामाणिक दैनिक है। देश के राष्ट्रीय समाचारपत्रों में इसकी गिनती होती है। इसके मुखपृष्ठ पर बड़े बड़े अक्षरों में छपे शीर्थक देश और दुनिया की ताजी और महत्वपूर्ण घटनाओं का विवरण देते हैं। इसमें स्थानीय घटनाओं के साथ ही देश और विदेश की महत्वपूर्ण घटनाओं की चर्चा होती है। विशेष समाचारों के साथ उनकी तस्वीर भी रहती हैं। नवभारत टाइम्स’ के समाचार विस्तृत और विश्वसनीय होते हैं। उनमें घटनाओं की पूरी जानकारी के साथ उनका पूरा विश्लेषण भी रहता है।

विभिन विभागों-स्तंभी की चर्चा

‘नवभारत टाइम्स’ एक पूर्ण दैनिक है। समाचारों के अतिरिक्त इसके अन्य विभाग भी समृद्ध होते है। इसके व्यंग चित्र बड़े सटीक और मार्मिक होते है। इसका काँटे की बात’ स्तंभ सचमुच बड़ा चुभनेवाला होता है। दो टूक ‘ स्तंभ के अंतर्गत किसी सामायिक विषय पर लोगों का दृष्टिकोण इनके फोटों के साथ प्रकाशित किया जाता है। आपका मन’ स्तंभ के अंतर्गत विभिन्न विषयों के बारे में पाठक अपने विचार प्रकट करते है। अखबार के ‘आज’ स्तंभ में दूरदर्शन के चैनलों में आनेवाले कार्यक्रमों की जानकारी दी जाती है।’ अर्थसार’ में सोना, चाँदी तथा शेयर बाजार के भाव दिए जाते हैं। ‘परिसर’ के अंतर्गत किसी स्थानीय घटना की चर्चा होती है।

‘नवभारत टाइम्स’ का एक पृष्ठ खेल-कूद के समाचारों के लिए सुरक्षित रहता है। इस पृष्ठ पर स्थानीय, राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं के सचित्र समाचारों के अलावा खेलविशेषज्ञों की समीक्षाएँ भी दी जाती है।

अन्य विशेषताएँ

इस समाचारपत्र में प्रतिदिन किसी-न-किसी विषय पर विशेष लेख दिए जाते हैं। रंग-तरंग’ शीर्षक के अंतर्गत दूरदर्शन के कार्यक्रमों की समीक्षा होती है। उर्वशी’ के अंतर्गत महिलाओं के लिए उपयोगी लेख तथा ‘सिनेमा’ में फिल्मों के बारे में रोचक चर्चाएँ होती है। नवभारत टाइम्स’ का रविवारीय अंक सचमुच बड़ा आकर्षक और पठनीय होता है। इसमें कहानी, कविताएँ, आयुर्वेद तथा कला और संस्कृति से संबंधित लेख रहते हैं।

मुझ पर प्रभाव

मैं प्रतिदिन नवभारत टाइम्स’ पढ़ता हूँ। मुझे इसके ‘धर्मक्षेत्रे’ तथा ‘एकदा’ स्तंभ बहुत प्रिय है। इसके पठन से मेरी भाषा में निखार आया है और मेरी जानकारी बढ़ी है। इसके संपादकीय लेखों से मैंने बहुत कुछ सीखा है । सचमुच ‘नवभारत टाइम्स’ एक आदर्श समाचारपत्र है । मैं तो इसे अपना ‘गुरु’ मानता हूँ।


Read this essay in following languages:

Share on:

इस ब्लॉग पर आपको निबंध, भाषण, अनमोल विचार, कहानी पढ़ने के लिए मिलेगी |अगर आपको भी कोई जानकारी लिखनी है तो आप हमारे ब्लॉग पर लिख सकते हो |

Leave a Comment

x